Thursday, February 6, 2020

शाहीन बाग में शूटर का आप के साथ संबंध बताने वाले पुलिस अधिकारी पर चुनाव आयोग ने की कार्रवाई

देव ने मंगलवार को संवाददाताओं से कहा कि शाहीन बाग में शनिवार को गोलीबारी करने वाला कपिल बैसला आप का सदस्य है.
चुनाव आयोग ने पुलिस अधिकारी पर की कार्रवाई


नई दिल्ली: 
दिल्ली पुलिस के डीसीपी राजेश देव के खिलाफ कड़ा संज्ञान लेते हुए चुनाव आयोग ने बुधवार को कहा कि उनका बयान पूरी तरह अवांछित था और उन्हें चुनावी कार्य से रोक दिया गया है. उन्होंने मीडिया के साथ जांच का ब्यौरा साझा किया था जिसमें शाहीन बाग के शूटर का संबंध आम आदमी पार्टी से दिखाया गया था.


चुनाव आयोग ने कहा कि देव के व्यवहार से स्वतंत्रत एवं निष्पक्ष चुनाव कराने पर असर पड़ेगा. देव ने मंगलवार को संवाददाताओं से कहा कि शाहीन बाग में शनिवार को गोलीबारी करने वाला कपिल बैसला आप का सदस्य है. इसके बाद आम आदमी पार्टी ने पुलिस अधिकारी के खिलाफ चुनाव आयोग का दरवाजा खटखटाया.
 
बता दें कि दिल्‍ली के शाहीन बाग में हुई फायरिंग (Shaheen Bagh Firing) के मामले में दिल्‍ली पुलिस ने बड़ा खुलासा करने का दावा किया था. पुलिस के अनुसार आरोपी कपिल गुर्जर (Kapil Gujjar) आम आदमी पार्टी से जुड़ा हुआ था. यही नहीं आरोपी कपिल के पिता गजे सिंह भी आम आदमी पार्टी (AAP) से जुड़ा हुआ था. पुलिस ने बताया था कि कपिल  (Kapil Gujjar) ने खुद एसआईटी की पूछताछ में यह बात बताई है. कपिल ने बताया था कि उसने और उसके पिता ने साल 2019 के शुरुआती महीने में आप की सदस्यता ली है. आरोपी के बयान के बारे में क्राइम ब्रांच ने कोर्ट को सूचित कर दिया है.  
पुलिस की क्राइम ब्रांच के अनुसार कपिल गुर्जर के मोबाइल फोन और जांच में पता चला था कि वह पार्टी का सदस्य था. साथ ही आरोपी के मोबाइल से कुछ फोटो भी मिले हैं. इन फोटोज में आरोपी कपिल गुर्जर (Kapil Gujjar) और उसके पिता गजे सिंह आम आदमी पार्टी की नेता आतिशी और आप सांसद संजय सिंह के साथ नजर आ रहे थे. 
वहीं कपिल के पिता गजे सिंह दिल्ली में उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसौदिया के साथ तस्वीरों मे नजर आ रहे हैं. इन फोटोज के अनुसार करीब एक साल पहले कपिल आम आदमी पार्टी की सदस्यता लेता हुआ नजर आ रहा है. उस वक्त कपिल और उसके पिता के साथ साथ कपिल के करीब एक दर्जन से ज्यादा साथियों ने आप पार्टी की सदस्यता ली थी. 
जो तस्वीरें क्राइम ब्रांच के हाथ लगी हैं उनके अनुसार कपिल बकायदा आम आदमी पार्टी की टोपी लगाए हुए हैं. बता दें कि कपिल इस वक्त क्राइम ब्रांच की कस्टडी में है. कपिल ने फायरिंग के बाद अपना व्हाट्सएप डिलीट कर दिया था. 
क्राइम ब्रांच ने व्हाट्सएप चैट और बाकी चीजें फोन से बरामद की हैं और उन्हीं के आधार पर खुलासा किया है. जानकारी के मुताबिक 30 जनवरी को कपिल बाइक से अपने दोस्त सार्थक के साथ शाहीन बाग पहुंचा था और दो राउंड फायरिंग की थी. फिलहाल क्राइम ब्रांच सार्थक से पूछताछ कर रही है. 
यही नहीं खुलासे में सामने आया है कि कपिल के पिता गजे सिंह पहले बीएसपी के सदस्य भी रह चुके हैं, उन्होंने 2008 में जंगपुरा से बीएसपी के टिकट पर विधानसभा और साल 2012 में एनसीडी का चुनाव लड़ा था. कपिल ने शाहीन बाग पहुंचने के बाद अपना मोबाइल और बाइक सार्थक को दे दी थी और फिर फायरिंग की थी. यहीं से पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया था और उसके पास से हथियार भी बरामद किया था. इसके अलावा कुछ सुराग CCTV से भी मिले हैं, जिसके अनुसार कपिल पिस्टल को अपने शरीर में छुपाकर ले जाता हुआ नजर आ रहा है. -ndtv

No comments:

Post a Comment

Find the post useful/interesting? Share it by clicking the buttons below